Aditya City News
आपका राज्य टेक्नोलोजी बिहार राजनीति राष्ट्रीय शिक्षा

ईदगाह में नहीं अदा की गई बकरीद की नामाज़,बिना गला मिले एक-दूसरे को दी गई बधाई

आदित्य सिटी न्यूज 

 मो. अंजुम आलम की रिपोर्ट :- 

जमुई: कोविड-19 संक्रमण को लेकर लगाए गए लॉकडाउन के बीच शनिवार को ईद-उल-अज़हा यानि बकरीद पर्व मनाया गया।हालांकि पूर्व की अपेक्षा इस बार ईद के बाद पहली बार ईदगाह के मैदान में बकरीद की भी नामाज़ अदा नहीं की गई। लोगों ने शांतिपूर्वक घरों में ही बकरीद पर्व मनाया। लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोगों ने बिना गला मिले ही एक-दूसरे को बकरीद की मुबारकबाद दी। कोविड-19 से सुरक्षा को लेकर लगाए गए लॉकडाउन के बीच सामूहिक नामाज़ अदा नहीं की गई।

सरकार के निर्देश के बाद सोसल डिस्टेंसिंग के तहत कम संख्यां में लोगों ने मस्जिदों में नमाज अदा की। जबकि अधिकांश लोग सोसल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घरों में नमाज अदा की। बता दें कि शहर के बोधवन तालाब स्थित ईदगाह के मैदान में सन्नाटा पसरा रहा तो आदर्श थाना के समीप जामा मस्जिद, मिर्चा मस्जिद, छोटी मस्जिद, नीमा मस्जिद, हांसडीह मस्जिद के अलावा पूरे जिले के मस्जिदों में सरकार के निर्देश और एसपी डॉ. इनामुल हक़ मेगनू के अपील को मानते हुए कम संख्यां में लोगों ने नमाज़ अदा की।

इस दौरान ईदगाह में पूरी तरह तालाबंदी कर दी गई थी,और मस्जिदों के जिम्मेदारों द्वारा सामूहिक नमाज पर सख्ती के साथ पाबंदी लगा दी गई साथ ही लोगों के घरों में ही ईद की नमाज अदा करने की अपील की गई थी। जामा मस्जिद के इमाम मुफ्ती मोहम्मद नसीम ने बताया कि देश के नियम और कानून को तोड़ने का हक किसी को नहीं है। देश के साथ-साथ लोगों की भलाई के लिए जमात के साथ सामूहिक नमाज अदा नहीं करने की लोगों से अपील भी की गई थी जिससे कोरोना संक्रमण की लड़ाई में साथ देते हुए लोगों ने घरों में ही नमाज़ अदा किया।

बता दें कि एसपी डॉ. इनामुल हक़ मगनू के अपील के बाद मुहल्ले व गांव के जिम्मेदारों द्वारा सरकार के निर्देशों का पालन व एसपी के अपील को मानने की बात कही गई थी।

नमाज के बाद दी गई कुर्बानी

ईद- उल- अज़हा यानि बकरीद की नमाज अदा करने के बाद लोगों ने घरों में सेवइयां और मिठाई खाकर पर्व मनाया, साथ ही अल्लाह के हुक्म को मानते हुए अल्लाह की रजा के लिए कुर्बानी दी। हैसियतमंद लोगों द्वारा अपने-अपने घरों में बकरे की कुर्बानी दी गई। और बकरे की मीट को गरीबों व जरूरतमंद पड़ोसियों, रिश्तेदारों के बीच वितरण किया गया। साथियों व रिश्तेदारों से मिलकर बकरीद पर्व की बधाइयां दी। वहीं लॉकडाउन से दूकाने बंद रहने की वजह से बाज़ारों में सन्नाटा पसरा रहा। जबकि छोटे-छोटे बच्चे नए-नए कपड़े पहन कर ईद पर्व की खुशियां मनाते दिखे।

सुरक्षा को ले चौक- चौराहों पर तैनात थी पुलिस

बकरीद पर्व को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह अलर्ट रही। चौक- चौराहों के साथ-साथ चिन्हित जगहों पर पुलिस बल की तैनाती की गई थी। वहीं बीडीओ पुरुषोत्तम त्रिवेदी, सीओ दीपक कुमार के अलावा नगर थानाध्यक्ष चंदन कुमार घूम- घूम कर हालात का जायजा ले रहे थे। पर्व को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के संयुक्त निर्देश पर पुलिस द्वारा नगर परिषद क्षेत्र के विभिन्न्न मुहल्लों एवं गांव में गश्ती की जा रही थी।

साथ ही पदाधिकारियों द्वारा मुहल्ले के गणमान्य लोगों से भी हालात की जानकारी ली जा रहा थी। हालात का जायजा ले रहे पदाधिकारियों ने बताया कि बकरीद पर्व को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। थोड़ी भी चूक होने की गुंजाइश नहीं है। उन्होंने बताया कि पुलिस जवानों द्वारा असामाजिक तत्वों एवं मनचले युवकों पर कड़ी निगाह रखी जा रही है।

Related posts

बिग ब्रेकिंग: बांका में आज फिर मिला 18 कोरोना पॉजिटिव केस,देखिए किस प्रखंड में कितना केस

Aditya City News

लाॅकडाउन: कोरोना के कारण सुनसान हो गई बांका की सड़के

Aditya City News

उपायुक्त राजेश्वरी बी की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमण को लेकर हुई बैठक, बाहर से आने वाले को दिखाना होगा पास, तब मिलेगा इंट्री

Aditya City News

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More